कुम्भ मेला के विशेष टिकट का लोकार्पण

0
229

त्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कुम्भ-2019 के अवसर पर प्रयागराज में उत्तर मध्य क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र के कलाग्राम परिसर का उद्घाटन किया। राज्यपाल ने कलाग्राम परिसर में ‘चलो मन गंगा यमुना तीर’ कार्यक्रम का भी द्वीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। इसमें विभिन्न प्रदेशों के लोक कलाकारों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम की सामूहिक प्रस्तुति दी। इसके साथ ही राज्यपाल ने इलाहाबाद संग्रहालय में प्रवेश हेतु ‘कुम्भ मेला 2019’ के विशेष टिकट का लोकार्पण भी किया।
राज्यपाल ने कहा कि कुम्भ देश की संस्कृति एवं आध्यात्मिकता का प्रतीक है। सरकार कुम्भ के भव्य आयोजन के लिए वृहद् स्तर पर व्यवस्था कर रही है। कुम्भ पर्व पर देश एवं विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं को इस ‘कलाग्राम’ में भारतीय लोक-संस्कृति से परिचित होने का अवसर मिलेगा। कुम्भ केवल भारत का ही नहीं बल्कि विश्व का पर्व है। राज्यपाल ने देश की महानता को मान्यता देने के लिए यूनेस्को को धन्यवाद देते हुये कहा कि यूनेस्को ने कुम्भ को ‘मानवता के अमूर्त सांस्कृतिक धरोहर’ की संज्ञा दी है।
उन्होंने कहा कि सरकार ने प्रयागराज एवं अयोध्या का पौराणिक नाम पुन:स्थापित किया है जो अपनी संस्कृति स्वयं अपनी पहचान बताती है। 400 वर्षों बाद प्रयागराज को पुन: उसका नाम मिलने से उन्हें प्रसन्नता हुई है। सरकार ने कुम्भ के अवसर पर ‘अक्षयवट’ एवं ‘सरस्वती कूप’ को श्रद्धालुओं के दर्शन हेतु खोला है जिसे केवल भारत ही नहीं बल्कि विदेश के लोग भी देखने आयेंगे। राज्यपाल ने कहा कि हमारी भारतीय संस्कृति ‘वसुधैव कुटुम्बकम्’ का संदेश देती है। कुम्भ देश की विविधता एवं समृद्ध संस्कृति को सीखने, जानने और समझने का अवसर है। उन्होंने कहा कि भव्य, दिव्य एवं सुरक्षित कुम्भ से उत्तर प्रदेश विश्व के मानचित्र में विशिष्ट स्थान अर्जित करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here