23 C
delhi
Thursday, February 21, 2019

देश

भारत के आक्रामक होने का सही समय

बात चाहे बलूचिस्तान में मानवाधिकार हनन के लंबे इतिहास और उसके कारण समाज के दिलो दिमाग पर खिंची दर्द की गहरी लकीरों की पृष्ठभूमि में उभरी मानवीय चिंता की हो या फिर भावनाओं की दुनिया...

हिन्द महासागर से प्रशांत महासागर तक

फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रॉन की भारत यात्रा विश्व राजनीति में भारत की बढ़ती पहुंच का एक और अवसर साबित हुई। घरेलू राजनीति में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस फ्रांस से युद्धक विमान राफेल की खरीद...

आंदोलन की राह पर किसान

किसान अपनी समस्याओं का समाधान चाहते हैं। फसल ऋण मांफी और फसल का लाभकारी दाम तय करने की मांग को लेकर अलग-अलग धरना-प्रदर्शन नहीं करेंगे। अब वे राष्ट्रीय स्तर पर किसानों का एक मंच...

बाघों के 25 स्टार्ट-अप से अरबों की कमाई

यह आपको अजीब लगे पर हकीकत यही है कि भारत में इस समय बाघों के अनेक स्टार्ट-अप हैं और हरेक की कमाई करोड़ों नहीं अरबों रुपए में हैं। अपने इन 25 स्टार्ट-अप से वे हमें...

नौकरशाह बने भ्रष्टाचारियों के संरक्षक

संस्कृति मंत्रालय के नौकरशाह भ्रष्टाचारियों के संरक्षक बने बैठे हैं। मंत्रालय से जुड़ी तकरीबन सभी संस्थाओं में यह चर्चा आम है। वे सहज ही कहते मिल जाते हैं कि आप कुछ भी कर लें,...
- Advertisement -

LATEST NEWS

MUST READ