25.5 C
delhi
Thursday, February 21, 2019

देश

चुनावी समर के लिए तैयार

‘सीना तानकर लोगों के बीच जाइए, आपकी सरकार ने ढेरों ऐसे काम किए हैं जिन पर आपको गर्व होगा। ऐसा एक भी काम नहीं किया जिससे आपका सर नीचा हो।’ दिल्ली के रामलीला मैदान...

जमीनी चुनाव में भी माकपा साफ

त्रिपुरा में लंबे समय तक शासन करने वाली मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) वर्तमान दौर में अपनी जमीन पूरी तरह से खो चुकी है। कांग्रेस की बची खुची जमीन भी खिसक चुकी है। कांग्रेस राज्य...

नौकरशाह बने भ्रष्टाचारियों के संरक्षक

संस्कृति मंत्रालय के नौकरशाह भ्रष्टाचारियों के संरक्षक बने बैठे हैं। मंत्रालय से जुड़ी तकरीबन सभी संस्थाओं में यह चर्चा आम है। वे सहज ही कहते मिल जाते हैं कि आप कुछ भी कर लें,...

रिजर्व बैंक से सुलह के संकेत

रिजर्व बैंक ने केन्द्र सरकार से सुलह का संकेत दिया है। उसने छोटे और मंझोले कारोबारियों को धन उपलब्ध कराने के लिए रास्ता खोलने की उम्मीद जगाई है। दरअसल सरकार से उसके टकराव के...

रोहिंग्याओं पर रार

भारत में करीब  40,000 रोहिंग्या गैर कानूनी रूप से रह रहे हैं। इनमें जम्मू कश्मीर में  7,096, हैदराबाद में  3,059, हरियाणा के मेवात में  1,114, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में  1200, दिल्ली में  1,061 और...

कांग्रेस पूर्वोत्तर से पूरी तरह बाहर

मिजोरम विधानसभा चुनाव में मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) को बड़ी जीत मिली। पिछले चुनावों में 40 में से 34 सीटें जीतने वाली कांग्रेस इस चुनाव में पांच सीटों पर ही सिमट...

नायक नहीं, खलनायक

टीपू जैसे खलनायक की जयंती वही मना सकता है, जो अपना स्वाभिमान और इतिहासबोध खो बैठा हो। ऐसे ही इतिहासकारों की संगत में सिद्धरामैया को टीपू जयंती मनाने की सूझी। वे अपने आपको नास्तिक...

मिशन साहसी से बना रहे निडर

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) देशभर की महिलाओं को सशक्त बनाने की मुहिम चला रही है। इसका नाम उसने ‘मिशन साहसी’ रखा है। परिषद से मिली जानकारी के अनुसार देशभर के 30 प्रदेशों में...

अयोध्या केस इतिहास बनाम संविधान

क्या मस्जिद किसी मीर बाकी ने बनाया या अंग्रेजों की साजिश थी? राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद पर पहली बार सन 1886 में फैसला देते हुए जिला न्यायाधीश एफईए शैमिअर ने लिखा था, ‘यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण...

इस साल विकास को मिलेगी नई उड़ान

विश्व बैंक की नई रिपोर्ट में भारत के विकास की प्रशंसा की गई है। उसमें कहा गया है जीएसटी और नोटबंदी ने अर्थव्यवस्था को औपचारिक सेक्टर की ओर ले जाने में मदद की है।...
- Advertisement -

LATEST NEWS

MUST READ